अवैध संबंधों के चलते हुई थी किशोरी की हत्या,चाचा और फूफा ने दबा दिया गला

बाराबंकी: बाराबंकी में ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है। यहां अवैध संबंधों के चलते एक 15 वर्षीय किशोरी की चाचा और फूफा ने मिलकर निर्मम हत्या कर दी। जब पुलिस ने मामले का खुलासा किया तो सभी के होश उड़ गए। पुलिस ने वारदात को अंजाम देने वाले आरोपी चाचा के साथ-साथ किशोरी के प्रेमी को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया है कि युवक के साथ अवैध संबंधों के चलते चाचा और फूफा ने किशोरी की गला दबाकर हत्या कर दी थी।

दो दिन पहले वारदात को दिया अंजाम

बता दें कि दो दिन पहले असंद्रा थाना क्षेत्र में एक किशोरी का घर के अंदर शव मिला था। परिजनों ने रेप के बाद हत्या आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर दी थी। दो दिन बाद जब पुलिस ने घटना का खुलासा किया तो सभी के होश उड़ गए। किशोरी की गला दबाकर हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके चाचा और फूफा ने मिलकर की थी। किशोरी का प्रेम-प्रसंग एक युवक से था। किशोरी को उसकी मां ने प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में घर के अंदर देख लिया था। उसी समय मां ने चाचा और फूफा को सारी बात बता दी, जिससे नाराज होकर चाचा और फूफा ने यह कदम उठाया।

किशोरी की गला दबाकर हत्या की

एएसपी मनोज कुमार पाण्डेय ने बताया कि किशोरी की गला दबाकर हत्या करने के मामले में भाई की तहरीर पर दो दिन पहले एक केस दर्ज किया गया। मौके पर डॉग स्क्वायड व पुलिस टीम ने पहुंचकर जांच की। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में किशोरी की गला दबाकर हत्या करने की पुष्टि हुई। इसके बाद पुलिस टीम ने जांच शुरू की तो मोबाइल की कॉल डिटेल व लोकेशन के आधार पर असंद्रा में सैलून चलाने वाले सिराज को पकड़ा गया।

आरोपी फूफा अभी भी फरार

इस पर पुलिस को पता चला कि सिराज का किशोरी के साथ अवैध संबंध था। किशोरी की मां ने घटना के दिन उसे आपत्तिजनक स्थिति में देखा था। लेकिन मां के शोर मचाने पर सिराज भाग गया था। इससे नाराज किशोरी के चाचा रामकिशोर व फूफा लालबहादुर ने गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले में असंद्रा पुलिस टीम ने चाचा राम किशोर और प्रेमी सिराज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। जबकि फूफा लाल बहादुर की पुलिस तलाश कर रही है।

Leave a Reply

Translate »