बाइडेन बोले- इजराइल की सुरक्षा को लेकर भी हमारी प्रतिबद्धता में बदलाव नहीं; फिलहाल समस्या का समाधान खोजने की जरूरत

न्यूयॉर्क: इजराइल और फिलिस्तीन के बीच जारी जंग आखिरकार खत्म हो गई। 11 दिन के भीषण संघर्ष के बाद इजराइल और हमास के बीच सीजफायर पर राजी हुए। मामले में अहम भूमिका निभाने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शुक्रवार को कहा कि इजराइल की सुरक्षा के प्रति उनकी प्रतिबद्धता में कोई बदलाव नहीं आया है। हामारी पार्टी साफतौर पर बेंजामिन नेतन्याहू के साथ खड़ी है। सीजफायर एक अच्छी पहल है। फिलहाल हमें समस्या का समाधान खोजने की जरूरत है, ताकि भविष्य में इन हालात से बचा जा सके। समाधान ही वह तरीका है, जिससे जंग को टाला जा सकता है।

नेतन्याहू पर पूरा भरोसा जताया
अपनी डेमोक्रेटिक पार्टी के कई सांसदों की स्थिति और उनकी प्रतिबद्धता के बदलाव के बारे में किए एक सवाल के जवाब में बाइडेन ने कहा कि कोई बदलाव नहीं, बिल्कुल नहीं। मैं आपको बताता हूं कि इसमें क्या बदलाव है? बदलाव यह है कि हमें अभी भी दो-राज्य के बीच समाधान खोजने की आवश्यकता है, यही एकमात्र जवाब है। बाइडेन ने कहा कि मैं प्रार्थना कर रहा हूं कि यह संघर्ष विराम कायम रहेगा। मैं मानता हूं कि नेतन्याहू जब भी मुझसे कोई वादा करते हैं, तो वह उसे निभाते हैं।

अब तक 243 की मौत
जंग में अब तक 243 लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें महिलाएं और बच्चे भी शामिल हैं। सबसे ज्यादा जान-ओ-माल का नुकसान गाजा पट्टी में हुआ है। यहां करीब 220 लोगों की मौत हुई। यहीं से हमास अब तक इजराइल पर रॉकेट हमले करता रहा है।

11 लाख लोगों के पास पानी, बिजली जैसी सुविधाएं नहीं

  1. इजराइल और फिलिस्तीन के बीच 11 दिनों तक चले संघर्ष का नतीजा यह निकला कि गाजा के 11 लाख लोगों के पास पीने का पानी, बिजली और टॉयलेट जैसी बुनियादी सुविधाएं नहीं हैं। बिजली सप्लाई चेन ध्वस्त हो चुकी है। इसले अलावा ज्यादातर स्कूल भी ध्वस्त हैं या बमबारी की वजह से बंद हो चुके हैं।
  2. करीब 6 लाख बच्चे शिक्षा से वंचित हैं और घरों में कैद हैं। गाजा को गाजा पट्टी कहते ही इसलिए है, क्योंकि वह जमीन का एक छोटा टुकड़ा भर है। कुल मिलाकर यह 40 किमी लंबी और 8-10 किमी चौड़ा है। इसकी आबादी करीब 20 लाख है और जनसंख्या घनत्व लंदन, शंघाई जैसे शहरों से भी ज्यादा है।

हमास की 55 हजार की मिसाइल का जवाब 80 लाख रुपए वाली मिसाइल से

  1. हमास ने 11 दिन में इजरायल पर 4 हजार मिसाइलें दागीं। इनमें हर एक मिसाइल की कीमत 22 से 55 हजार रुपए के बीच है। वहीं इजरायल ने हमास की इन मिसाइलों का जवाब 40 से 80 लाख रु. वाली मिसाइल से दिया।
  2. मिसाइल एक्सपर्ट्स बताते हैं कि हमास सबसे ज्यादा कसाम रॉकेट का इस्तेमाल करता है, जिसे वह एक साथ दागता है। इजरायल इन हमलों से निपटने के लिए आयरन डोम सिस्टम का इस्तेमाल करता है। इससे मिसाइलें खुद उड़कर रॉकेट नष्ट करती हैं। फिश इंस्टीट्यूट में स्पेस रिसर्च सेंटर के पूर्व अध्यक्ष ताल इनबर के मुताबिक, इससे इजरायल का हर दिन करोड़ों रुपए का नुकसान होता है।

छोटी सी झड़प से शुरू हुआ विवाद जंग तक पहुंचा

  • 7-9 मई: जुमे की नमाज के बाद अल-अक्सा मस्जिद में झड़प। इजरायली पुलिस स्टन ग्रेनेड इस्तेमाल किए। 200 से ज्यादा घायल।
  • 10 मई: इजरायलियों ने अरबों के इलाके से मार्च निकाला। झड़प में 300 फिलिस्तीनी, 21 पुलिसकर्मी जख्मी। तब हमास ने हमले किए।
  • 11 मई: इजरायली एयरस्ट्राइक में गाजा सिटी टावर ध्वस्त। इजरायल ने हमास के 10 वरिष्ठ अधिकारियों को हवाई हमलों में ढेर कर दिया।
  • 12 मई: हमास ने इजरायल के तेल अवीव, एश्केलोन और बीरशेबा शहरों पर रॉकेट दागे। यहूदी-अरबों वाले क्षेत्रों में झड़प। आपातकाल।
  • 13 मई: वेस्ट बैंक, जॉर्डन में हिंसा। फिलिस्तीनी अधिकारियों ने इजरायली हमले में 11 लोगों की मौत की बात कही। पर इजरायल का इनकार।
  • 14 मई: लेबनान-इजरायल सीमा पर इजरायली सुरक्षाबलों ने हिज्बुल्लाह के 21 वर्षीय सदस्य को गोली मार दी। इससे भी तनाव बढ़ा।
  • 17 मई: लेबनान ने इजरायल पर 6 रॉकेट दागे, लेकिन ये पहले ही गिर गए। इजरायल ने भी लेबनान पर रॉकेट दागे।
  • 18 मई: संघर्ष का दूसरा हफ्ता शुरू, पर हमले नहीं रुके। 200 से अधिक मौतें, इनमें 12 इजरायली। बड़ी संख्या में लोग घायल हुए।
  • 19 मई: फिलिस्तीनी राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव एंतोनियो गुतेरस से बात कर हिंसा रोकने की अपील की।
  • 20 मई: रात करीब 2 बजे मिस्र की मध्यस्थता में संघर्षविराम पर सहमति। हमास ने कहा कि हमले रोके। गाजा मस्जिद से जीत का ऐलान, फिर जश्न।
  • 21 मई: युद्ध विराम के बाद दोनों तरफ के लोग हजारों की संख्या में अल अक्सा मस्जिद पहुंचे। फिलिस्तीनियों ने आतिशबाजी कर जश्न मनाया। इसी बीच उनकी इजरायली सुरक्षा बलों से झड़प हो गई। इसमें 60 से ज्यादा लोग घायल हो गए।

Leave a Reply

Translate »